Business & Finance Life & Relationship

वह 5 कारण जिनकी वजह से आपको अपने रिश्ते में सीमा की जरूरत पड़ती है

life and relationship
Written by admin

चाहे आपने अपना रिश्ता नया दर्ज किया है, या आप सालों से अपने साथी के साथ हो। एक रिश्ते में सीमाएं एक दूसरे की अपेक्षाओं का भी सम्मान करती है। यदि आपका साथी आपसे यह उम्मीद करता है कि आप उसके प्रति सच्चे रहेंगे तो उसकी सीमा का सम्मान करता है। यह सीमाएं आपके रिश्ते में मूलभूत ताकत बनाता है,जो आप आसानी से आजमा सकते हैं। यदि आप के इससे जुड़ी जानकारी चाहिए तो हम आज जिक्र करेंगे उन पांच कारणों की जिनकी वजह से आपके रिश्ते में सीमा की जरूरत पड़ती है:-

  1. अपनी सीमाएं जाने- इस सीमा को जानने के बाद यह आकलन करें कि कोई आपकी सीमाओं से आगे निकल सकता है, जहां आप अपने शारीरिक, भावनात्मक भागीदारीओं में एक सीमा को जाने, जो आपके रिश्ते को मजबूत एवं लंबे समय तक बरकरार रखेगा।
  2. समग्र अपेक्षाएं- एक रिश्ते में बहुत जरूरी है कि आप किसी से क्या उम्मीद करते हैं और आप क्या प्राप्त करना चाहते हैं। एक रिश्ते को देने और लेने का संतुलन होना चाहिए। तब तक नहीं लेना चाहिए जब तक कि किसी के पास देने के लिए कुछ ना बचा हो…… लेकिन अगर कोई अपेक्षाओं के मानकों के रूप में सोचता है तो उसके साथ आने वाली सीमाओं को गले लगाना आसान हो जाता है,क्योंकि यहां इस बात पर चर्चा करनी जरूरी होती है की पूर्ति होने की और कितनी दूर जाने के इच्छुक है। और किस तरह बदलना चाहते हैं
  3. वित्तीय- यहा आम तौर पर धन को दिल के मामले में जहर के रूप में लिया जाता है, लेकिन आपको बता दे कि पैसा मानव संबंधों का एक अनिवार्य हिस्सा है। यह अक्सर देखा गया है कि कई विवाहित जोड़े अब खुले तौर पर अलग अलग बैंक खाते रखते हैं।यह विश्वास के और असफल रिश्ते की उम्मीद का मुद्दा नहीं है, बल्कि यह सुविधा की बात है। जहां लोग बाद में वित्तीय उलझन ओं से बचने के लिए शायद इस तरह का विकल्प चुनते हैं।
  4. अपनी खुद की भावनाओं को पहचाने और स्वीकार करें– हमें यह जानना जरूर जाना चाहिए कि यह क्या है जो हम महसूस कर रहे हैं। यह आपके रिश्ते में प्रभावी सीमाओं को निर्धारित करने के लिए बहुत जरूरी है। हममें से कई लोग जो रिश्तो में कमजोर या लिक की सीमा हो के साथ समस्या में है वे यह है कि हम इतने अधिक उन्मादी हो गए हैं। इसलिए दूसरे व्यक्ति के सामान से घिरे हुए हैं। जहां हम अपने आप को तोड़ने, जांचने के लिए समय निकालकर जानबूझकर अपने और दूसरे व्यक्ति के बीच अंतर कर रहे हैं।
  5. ग्राउंडेड हो जाए- दो चीजें हैं जो अक्सर तब देखी जाती है जब रिश्तो में सीमाएं कमजोरी होती है। पहली बात कि दूसरे व्यक्ति से प्रतिक्रिया होती है और दूसरी बात आप दोषी महसूस करते हैं। इन्हीं कारणों से अपने भीतर ग्राउंडेड होना बेहद जरूरी है। हम केवल कुछ समय निकालकर ऐसा कर सकते हैं। इसके अलावा यह भी याद रखें कि आपकी भावनाएं मान्य है। उस कारण से आप अपनी सीमा निर्धारित करने के लिए गलत नहीं है, बल्कि ऐसा हम सभी को करना चाहिए।

Leave a Comment