Business & Finance Value Investing

Top 10 facts about female investing

Top 10 facts about female investing
Written by admin

महिलाओं की वित्तीय जानकारी एक पुरुष के मुकाबले कई हद तक कम होती है, जो महिलाओं निवेशक (Female Investors) के बारे में बिल्कुल सत्य है।

Top 10 facts about female investing

Top 10 facts about female investing

महिलाओं की वित्तीय जानकारी (Financial Information) एक पुरुष के मुकाबले कई हद तक कम होती है, लेकिन कुछ ऐसी कमियां भी है जो निवेश (Invest) के समय महिलाएं ध्यान नहीं दे पाती है, लेकिन कुछ कमियों और नुकसान के बावजूद निवेश ( invest) करने की बात आने पर महिलाएं अपनी पकड़ बनाने का प्रबंध (management) करती है। तो आज हम आपको कुछ ऐसी ही जानकारी देने वाले हैं। जहां आपको हम बताएंगे कि 10 ऐसे तथ्य कौन-कौन से हैं, जो महिलाओं निवेशक (Female Investors) के बारे में बिल्कुल सत्य है।

female investing

1. कम जोखिम उठाती है महिला

यह तो सत्य है कि महिलाएं सांख्यिकीय रूप से इसे पुरुषों की तुलना में अधिक सुरक्षा मानती है और शायद इसमें चोकने वाली कोई बात नहीं है,क्योंकि उनकी समझदारी उनके निवेश (Investment) तक फैली हुई है। इतना ही नहीं आपको बता दें कि एक महिला कभी भी अधूरी जानकारी पर कार्य करने में इच्छुक नहीं होती है और वह बड़े बड़े नुकसान से बचने के लिए पूर्ण रुप से तैयार रहती है।

2. पहले स्थान पर ज्यादा बचती है महिलाएं

इसे तात्पर्य है कि महिलाएं उच्च दर पर बचत करती है। फेडेलिटी की रिपोर्ट है कि महिलाओं ने प्रत्येक वर्ष कार्यस्थल सेवानिवृत्ति की बचत के लिए अपनी तनख्वाह का 9% निर्धारित किया है। जबकि पुरुषों की तुलना में यह 8.6% है। वहीं जब गैर खातो की बात आती है तो इसमें महिलाएं सबसे अधिक बचत करती नजर आती हैं।

3. महिलाओं को अपने वित्त के बारे में कम जानकारी है

सामाजिक तत्वों से जूझने वाली महिलाओं को व्यक्तिगत वित्त में हमेशा एक सामाजिक तत्वों नहीं मिलता है। वही आपको बता दें कि अपने वित्तीय संबंधी (Financial Related) जानकारियों के बारे में एक महिला को ज्यादा जानकारी नहीं होती है। वह केवल छोटी-छोटी जोखिमो से बचने के लिए हमेशा कोशिश करती है, ताकि सही तरह से वित्तीय लाभ (Financial profit) मिल सके।

4. महिलाओं के पास खुद के स्टॉक होने की संभावना कम होती है

एक सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है कि महिलाएं अपनी संपत्ति का पूरा 70% हिस्सा नगदी में रखती है, जबकि पुरुष अधिकतम 60% नगदी रखते हैं। वह महिलाओं को कई अद्वितीय बाधाओं का भी सामना करना पड़ता है, जैसे कि कम वित्तीय शिक्षा और बच्चों या उम्र बढ़ने वाले माता-पिता की देखभाल के लिए अधिक कैरियर ढूंढे जाते हैं।

5. महिला को अधिक निवेश क्यों करना चाहिए

अगर सही तरीके से निवेश (invest) किया जाए तो एक महिला निवेशक (female investors) अक्सर पुरुष साथियों को संबंधित निवेशकों (investors) में बेहतर प्रदर्शन करती हैं। महिला निवेशकों (female investors) को खरीदने और धारण करने की अधिक संभावना होती है, ताकि जब भी महिलाएं दिखने वाले संदिग्धों में निर्णय लेती है तो वे इसे कम बार करती हैं। महिलाएं ज्यादातर अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों के बजाय बेंच मार्क की योजना पर ज्यादा टिक पाती है।

6. महिलाएं अधिक जानकारी और भागीदारी चाहती है

एक महिला अपने वित्तीय (Financial) भविष्य और उनकी सेवानिवृत्ति के बारे में चिंतित होने के अलावा महिलाएं सक्रिय रूप से अधिक भागीदारी चाहती है। एक शोध में यह पता चला है कि एक महिला अधिक ज्ञान चाहती है, ताकि वे बेहतर वित्तीय (Financial) निर्णय ले सके। वे शेयर में निवेश (invest) करके ऐसा कर सकती है जिससे आपको काफी अच्छा रिटर्न मिल सकता है। फिर भी लगभग दो-तिहाई सभी बचत और निवेश (invest) नगद में होते हैं।

7. महिला आर्थिक वित्तीय सुरक्षा चाहती है

वित्तीय (Financial) सुरक्षा से यहां हम यह जान सकते हैं कि एक महिला प्रतिमाह (per month) बचाने के लिए अपने आय का कुछ हिस्सा उपयोग करेगी। जिसमें 45% महिला बनाम 38% पुरुष है। 30% पुरुषों की तुलना में 28% महिलाओं का ऋण चुकाया या अपने बच्चों की पढ़ाई एवं भविष्य पर खर्च करते हैं। जिसमें 15% महिलाएं बनाम में 11% पुरुष शामिल है।

8. सेवानिवृत्ति की योजना को अनदेखा करना

एक पुरुष जितना आश्वस्त अपनी सेवानिवृत्ति योजना के लिए रहते हैं महिलाओं में उतना उत्साह नहीं देखा गया है। जबकि 47% पुरुष और 46% महिलाओं ने उच्च प्राथमिकता के रूप में एक आरामदायक सेवानिवृत्ति का हवाला दिया। केवल 53% महिलाओं ने कहा कि उन्होंने 62% पुरुषों की तुलना में उस लक्ष्य के लिए बचत करना शुरू कर दिया है।

9. महिला अपने निवेश में लगी रहना चाहती है

महिलाओं के बारे में संभावना के रूप में पुरुषों को रंगीत करने के लिए वे नियमित रूप से रिटर्न में सुधार करने के लिए अपने निवेश (invest) में बदलाव को तैयार है। जिसमें 49.8% महिलाओं के साथ 54.9% पुरुष है।इसलिए कहा जाता है कि धन और शिक्षा के स्तर से अधिक भिन्न होती है।

10. महिलाओं का दृष्टिकोण सही है

जब भी निवेश (invest) की बात आती है तो यह बहुत महत्वपूर्ण होता है कि आपमे धैर्य रखने की क्षमता हो और इस संबंध में महिलाओं के पास पूरी तरह से बढ़त है। एक महिला अपने जीवन में वित्तीय (financial) लक्ष्यों को पूरा करने के लिए वित्तीय (financial) योजनाओं का निर्माण करती है और यह एक दीर्घकालिक दृष्टिकोण है, जो अक्सर उन्हें बाजार में गिरावट पर प्रतिक्रिया देने एवं जल्दबाजी करने से बचाता है।

Leave a Comment