Food & Nutrition

Mood Boosting Food for Depression:- 9 foods that boost your mood.

mood-boosting-food
Written by admin

आज हम आपको कुछ ऐसे mood boosting food का सेवन करने की सलाह देने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आपका mood काफी खुश रह सकता है और तरोताजा महसूस कर सकते हैं।

Mood Boosting Food for depression

Mood Boosting Food for depression
Mood Boosting Food for depression

स्वस्थ रहने के साथ-साथ हमारे लिए यह भी काफी रूप से महत्वपूर्ण हो जाता है कि हम किस तरह का भोजन खाते हैं, क्योंकि हम जो भी भोजन का सेवन करते हैं उसका सीधा असर हमारे स्वास्थ्य पर और हमारे मूड पर पड़ता है। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे mood boosting food का सेवन करने की सलाह देने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आपका mood काफी खुश रह सकता है और आप काफी तरोताजा महसूस कर सकते हैं।

Mood Boosting Food
Mood Boosting Food

Read this also…..HIGH BLOOD PRESSURE:- SYMPTOMS, CAUSES, AND HOME REMEDIES IN HINDI

Consumption of mood boosting food

1. डार्क चॉकलेट – Dark Chocolate is mood – boosting food

Mood boosting food:- Dark Chocolate
Mood boosting food:- Dark Chocolate

डार्क चॉकलेट को मूड अच्छा बनाने वाला सुपर फूड माना जाता है। इसमें यह खासियत होती है कि यह शरीर में तनाव पैदा करने वाले हार्मोन को कम कर अच्छे मूड वाले हार्मोन को बढ़ाता है। मजेदार बात यह है कि डार्क चॉकलेट खाने में भी काफी स्वादिष्ट होता है। अगली बार अगर किसी बात को लेकर आप दुखी हों यानी आपका मूड खराब हो, तो डार्क चॉकलेट खा लीजिएगा। और तो और आइसक्रीम और पैनकेक में मौजूद चॉकलेट भी आपके मूड पर असरदार साबित होगा।

Read this also….CANCER PREVENTION:- 5 WAYS TO PREVENT CANCER IN HINDI

2. हेल्थी कार्ब – Healthy Carbs also mood boosting food

Mood boosting food:- Healthy carbs
Mood boosting food:- Healthy carbs

अगर आप हर दिन संतुलित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन करेंगे तो इससे भी तनाव कम होगा और आपका मूड बेहतर होगा। देखा जाए तो मूड ठीक करने का यह एक कारगर तरीका है। कार्बोहाइड्रेट आपका मूड ठीक करके आपको खुशमिजाज तो बनाता ही है, साथ ही शरीर पर इसका कोई बुरा असर नहीं पड़ता है।

Read this also…..THE TOP 20 BEST AND WORST DIET FOOD OF 2020

3. फल और साग सब्जी – Fruits and Vegetable

अन्न, फल और साग सब्जी मिलकर आपके मूड को बेहतर बनाते हैं और शरीर में तनाव पैदा करने वाले हार्मोन को कम करते हैं। साथ ही इससे आपका स्वास्थ भी बेहतर होता है। ऐसा देखा गया है कि जो इन चीजों को अपने रोजमर्रा के आहार में शामिल करते थे, वे तनावमुक्त रहते हैं और उन्हें मूड से संबंधित समस्या भी नहीं होती है। साथ ही आप आटे, चावल और दूसरे अन्न को आसानी से अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। इसी तरह फल और सलाद का सेवन भी काफी फायदेमंद रहता है।

Read this also….CALORIE TO LOSE WEIGHT: HOW MANY DAILY CALORIE CONSUMPTIONS NEEDED.

4. कैफीन – Caffeine

चाय या कॉफी के साथ कैफीन लेने से भी तनाव कम होता है और शरीर में ऊर्जा का स्तर भी बढ़ता है। कैफीन लेने से आप अच्छा महसूस करेंगे। पर ध्यान रहे, आप इसका सेवन नियंत्रित रूप से करें, क्योंकि लोगों को कफीन की लत काफी जल्दी लग जाती है। साथ ही कैफीन का ज्यादा सेवन स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं होता है।

Read this also….11 SIGNS IT’S MORE SERIOUS THAN THE COMMON COLD

5. मीठा – Sweets

जाम, केक और दूसरे बैकरी प्रोडक्ट भी मूड को बेहतर बनाने के लिए जाने जाते हैं। जब भी आपका मूड खराब हो तो आप मिठी खाकर इसे अच्छा बना सकते हैं। स्वीट फूड को मूड ठीक करने के लिए सूपर फूड माना जाता है।

Read this also….WHICH FOOD SHOULD BE INCLUDED IN A DIET TO GET HEALTHY AND GLOWING SKIN.

6. अन्‍य आहार – Other Foods

इसके अलावा मूड बेहतर करने के लिए और भी कई खाद्य पदार्थ हैं। मसलन आप मछली, हैम, पनीर और मीट लोफ खाकर भी अपना मूड अच्छा कर सकते हैं। चैरी और बैरी के बारे में कहा जाता है कि यह मूड को रोमांटिक बनाता है। ऐसे खाद्य पदार्थ को एफ्रोडिसिएक नाम से जाना जाता है।

Read this also….8 STEPS TO FINDING THE PERFECT WINTER CARE IN HINDI

7. अखरोट – Walnuts

अगर हमें मानसिक तनाव, अवसाद, चिंता, बार बार मूड खराब हीने की समस्या है तो इस का मतलब हमारे शरीर में ओमेगा 3 फैटी एसिड्स की कमी है। अखरोट का सेवन इन सभी समस्याओं से निजात दिलाता है और हमारे मिजाज को ठीक करके हमें खुशी और अच्छा महसूस करवाता है। यह हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करता है और शरीर में रक्त परिसंचरण या रक्त का प्रवाह बढ़ाता है और हमारे मिजाज को अच्छा रखता है।

Read this also….20 THINGS YOU SHOULD KNOW ABOUT CHOLESTEROL CONTROL

8. अंडा – Eggs

ओमेगा-3 से भरपूर अंडा तनाव दूर करने में मदद करता है। अंडे में मौजूद लेसितिण हमारे मूड को नियंत्रित करने में मदद करता है। विटामिन बी-12 से भरपूर अंडे का सेवन करने से डिप्रेशन भी नहीं होता है। अंडे में मौजूद कोलीन पोषक तत्व की मात्रा बहुत अधिक होती है। इसके सेवन से हमारा मूड अच्छा होता है और शरीर को आराम और खुशी मसहूस होता है।

Read this also….SKIN DISEASE:- TYPES, CAUSES, SYMPTOMS, AND TREATMENT

9. ब्राउन ब्रैड – Brown Bread

 Mood boosting food:- Brown bread
Mood boosting food:- Brown bread

हमारा मूड हमारे शरीर कि शर्करा की मात्रा पर निर्भर करता है। ब्राउन ब्रैड के सेवन से हमारे रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रण में रखा जा सकता है। जिस कारण इस के सेवन से हम अपनी ऊर्जा के स्तर और अपने मूड को अच्छा बना सकते हैं।

Read this also….21 SIGNS YOU WORK WITH AMAZING PSYCHOLOGICAL FACT ABOUT BRAIN

What are the depression symptoms

  1. थकान महसूस होना और सुस्ती
  2. उत्तेजना या शारीरिक व्यग्रता
  3. मादक पदार्थों का सेवन करना
  4. एकाग्रता में कमी
  5. ख़ुदकुशी करने का ख़्याल
  6. किसी काम में दिलचस्पी न लेन

Read this also….THE 10 THINGS ABOUT LUNG CANCER AND CAUSES FOR HAVING LUNG CANCER.

How to overcome depression

यदि आपको डिप्रेशन से बचना है तो इस बारे में खुलकर बात करें। रोज़मर्रा की ज़िंदगी में छोटे-छोटे बदलाव लाते हुए ख़ुद को व्यवस्थित कर लीजिए।ख़ुद को समय दें और अपने शरीर को भी। यह होगा कैसे, आइए जानते हैं।

Read this also….महिलाओं में कमजोरी के कारण, लक्षण, एवं उपाय – WOMEN WEAKNESS IN HINDI

1. बात करें

अवसाद से गुज़र रहे लोगों के लिए इससे उबरने के लिए नियमित तौर पर ऐसे व्यक्ति से बात करना जिनपर वे भरोसा करते हों या अपने प्रियजनों के संपर्क में रहना रामबाण साबित हो सकता है। आप खुलकर अपनी समस्याएं उनसे शेयर करें और परिस्थितियों से लड़ने के लिए उनकी मदद मांगें। इसमें शर्म जैसी कोई बात नहीं है। हमारे सबसे क़रीबी लोग यदि हमें बुरे समय से बाहर नहीं निकालेंगे तो कौन मदद करेगा।

Read this also….HEART-HEALTHY DIET PLAN IN HINDI:- SOME FOODS THAT PREVENT HEART DISEASE.

2. सेहतमंद खाएं और रोज़ाना व्यायाम करें

सेहतमंद और संतुलित खानपान से मन ख़ुश रहता है। वहीं कई वैज्ञानिक शोध प्रमाणित करते हैं कि व्यायाम अवसाद को दूर करने का सबसे अच्छा तरीक़ा है। जब हम व्यायाम करते हैं तब सेरोटोनिन और टेस्टोस्टेरोन जैसे हार्मोन्स रिलीज़ होते हैं, जो दिमाग़ को स्थिर करते हैं। डिप्रेशन को बढ़ाने वाले विचार आने कम होते हैं।व्यायाम से हम न केवल सेहतमंद बनते हैं, बल्कि शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

Read this also….CAUSES OF DIABETES, ITS SYMPTOMS, AND REMEDIES मधुमेह होने के कारण क्या क्या है।

3. अपने अंदर के लेखक को दोबारा जगाएं

कहते हैं मनोभावों को यदि आप किसी से व्यक्त नहीं कर सकते तो पेन और पेपर लेकर उन्हें लिख डालें। लिखने से अच्छा स्ट्रेस बस्टर शायद ही कुछ और हो। इसके अलावा अपनी लिखने से आत्मनिरीक्षण और विश्लेषण करने में मदद मिलती है। डायरी लिखने से लोग चमत्कारी ढंग से डिप्रेशन से बाहर आते हैं। इन दिनों ब्लॉग्स का भी ऑप्शन है। आप फ़ेसबुक पर भी अपने विचार साझा कर सकते है।

Read this also….सर्दियों मे खाए जाने वाले फल- WINTER FRUITS TO EAT.

4. दोस्तों से जुड़ें और नकारात्मक लोगों से दूरी बनाएं

अच्छे दोस्त आपके मूड को अच्छा बनाए रखते हैं। उनसे आपको आवश्यक सहानुभूति भी मिलती है। वे आपकी बातों को ध्यान से सुनते हैं। डिप्रेशन के दौर में यदि कोई हमारे मनोभावों को समझे या धैर्य से सुन भी ले तो हमें अच्छा लगता है। दोस्तों से जुड़ने के साथ-साथ आप उन लोगों से ख़ुद को दूर कर लें, जो नकारात्मकता से भरे होते हैं। ऐसे लोग हमेशा दूसरों का मनोबल गिराने का काम करते हैं।

Read this also….रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के तरीके (METHODS TO INCREASE IMMUNITY POWER).

5. नौकरी की करें समीक्षा

इन दिनों कार्यस्थलों पर कर्मचारियों को ख़ुश रखने की बड़ी-बड़ी बातें की जाती हैं, पर कई जगहों पर वास्तविकता इससे अलग होती है। यदि आप भी कार्यस्थल पर स्ट्रेस्ड महसूस करते हैं तो अपनी नौकरी की समीक्षा करें। हो सकता है कि नौकरी ही आपकी चिंता की वजह हो, जो आगे चलकर अवसाद का कारण बन जाए। ऐसी नौकरी को छोड़ दें, ताकि सुकून से जी सकें। वह नौकरी ही क्या जो आपको संतुष्टि और ख़ुशी न दे रही हो? आप अपने पसंद के क्षेत्र में नौकरी के विकल्प तलाश सकते हैं।

Read this also….WEIGHT LOSS DIET PLAN IN HINDI – वजन कम करने के आसान उपाय

6. नियमित रूप से छुट्टियां लें

एक ही ऑफ़िस, शहर और दिनचर्या भी कई बार बोरियत पैदा करनेवाले कारक होते हैं, जो आगे नकारात्मक विचार और फिर डिप्रेशन पैदा करते हैं। माहौल बदलते रहने से नकारात्मक विचारों को दूर रखने में मदद मिलती है। यदि लंबी छुट्टी न मिल रही हो तो सप्ताहांत पर ही कहीं निकल लें।

Leave a Comment