General Life & Relationship

क्या पढ़ाई और प्यार दोनों साथ में सम्भव हैं?

क्या पढ़ाई और प्यार दोनों साथ में सम्भव हैं?
Written by admin

आपकी प्राथमिकता ,समझदारी और संवेदशीलता पे यें निर्भर करता है पूरी तरह क्युकी प्यार का परिणाम सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही हो सकता है , और ये आपको तीन परिस्थिति में से किसी में लाकर खड़ा कर सकती है और मै अपको तीनों परिसिस्थित से यहां परिचित करवाना चाहती हूं , फिर आप खुद ही तय कर लीजिएगा।

क्या पढ़ाई और प्यार दोनों साथ में सम्भव हैं?

यह संभव है जब आपका पार्टनर भी पढ़ाई करने वाला होगा तो यह काफी हद तक मुमकिन हो सकता है, क्योंकि जो महत्व आप चीजों को देंगी वही चीज उसके लिए भी उतनी ही महत्व होगी।

जैसा अक्सर यह देखा जाता है कि परीक्षा के वक्त पर काफी मुसीबतें आती है, क्योंकि पहले से आपको घंटे बात करने की आदत हो चुकी होती है। अगर यदि आपका पार्टनर पढ़ाई करता है तो यह छन उसके लिए भी उतना ही महत्वपूर्ण होगा जितना कि आपके लिए है। यदि आपका आपके साथ पढ़ाई नहीं करता और अन्य कार्य करता है, तो यह थोड़ा मुश्किल है कि वह आपकी परेशानी को समझें। ऐसे 90% लोग होते हैं जो अलग-अलग पेशे से होते हैं। जिन्हें एक समय में परेशानी होनी तय होती है। लेकिन हां, पढ़ाई के साथ प्यार हो सकता है। दोनों की जरूरत है जो अपनी अपनी है और वह हर व्यक्ति के लिए भिन्न हो सकती हैं। जैसा कि पैसा, समय उनके लिए कोई फॉर्मूला नहीं बनाया जा सकता है।

आजकल लोगों के बीच यह आम बात है कि उन्हें स्कूल लाइफ, कॉलेज लाइफ में किसी से अधिक लगाओ या प्यार हो जाता है।जहां कई बार उनकी पढ़ाई पर खास असर पड़ता है। जिस वजह से वह पढ़ाई पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। आपको बता दें कि यदि आपको पढ़ाई के दौरान प्यार हो जाता है तो अपने रिश्ते और पढ़ाई के बीच सही संबंध बनाने की कोशिश करें। अगर आप दोनों को सही तरीके से मैनेज नहीं करेंगे तो शायद दोनों से ही हाथ धो बैठेंगे। जहां हम आपको आज बताएंगे कि इस स्थिति में क्या-क्या करना चाहिए और किन-किन बातों पर ज्यादातर फोकस करना चाहिए।यह आपके लिए बहुत जरूरी है।

1. टाइम मैनेजमेंट

अगर आप अपनी पढ़ाई के साथ अपने रिश्ते को भी बरकरार रखना चाहते हैं, तो टाइम मैनेजमेंट करना सीख ले। अपना एक शेडूल बना ले और उस हिसाब से उसे अरेंज करें। इससे आपको भी टाइम की वैल्यू समझ आएगी और आपके पार्टनर को भी। जिससे आप पढ़ाई पर भी ध्यान दे सकेंगे।

2. एग्जाम टाइम

एग्जाम टाइम

रिश्ते और प्यार को बैलेंस करने के लिए आपको अपने ऊपर ध्यान देने की जरूरत है। परीक्षा के दिनों में प्यार से ज्यादा पढ़ाई पर ध्यान दें और यह सिर्फ परीक्षा के लिए ही नहीं है, अपने जीवन में सभी महत्वपूर्ण कार्य और महत्वपूर्ण रिश्ते को सबसे ज्यादा प्राथमिकता दें। ऐसे में आप सुखी जीवन जी सकते हैं।

3. एक समय निकालें

एक समय निकालें

अगर आपका पार्टनर एक कॉलेज या स्कूल में ना हो तो आपके लिए सबसे सही विकल्प होगा कि आप वीकेंड में साथ होने का समय निकालें। ऐसे में आप बाकी का वक्त पढ़ाई में और वीकेंड अपने पार्टनर के साथ आसानी से बिता सकते हैं और इस तरीके अपनाने के बाद आपको कोई परेशानी भी नहीं होगी।

4. दबाव न बनने दें

कभी भी खुद पर किसी भी बात का दवाब नहीं बनने दे, ऐसा होने से आप किसी भी रिश्ते को दिल से नहीं निभा पाएंगे और धीरे धीरे प्यार के प्रति आपका आकर्षण खत्म हो जाएगा और यह भी कोशिश करें कि आप किसी के ऊपर दबाव ना बनाए,कि कोई आपको समय दें। सबकी अपनी अपनी प्राथमिकताएं होती है।

कुल मिलाकर अगर बात करें तो पढ़ाई और प्यार एक साथ हो सकती है। यह पूर्ण रूप से आप पर निर्भर करता है। आप किस चीज को कितना वक्त देते हैं और किस चीज के लिए क्या-क्या कर सकते हैं। प्यार हमारे जीवन का वह हिस्सा है जो कई बार हमें जीवन जीने की ऊर्जा देता है और हमें लक्ष्य को पाने में मदद करता है, क्योंकि प्यार में वह शक्ति होती है जो हमें किसी भी चीजों को आसानी से हासिल करने में मदद करता है।

Leave a Comment