General Health

जानलेवा होते हैं ये 2 प्रकार के थायराइड, जानें लक्षण और कारण

जानलेवा होते हैं ये 2 प्रकार के थायराइड, जानें लक्षण और कारण
Written by admin

यह वर्तमान समय की ऐसी समस्या बन गई है, जो अधिकांश लोगों में देखने को मिल रही है। इसलिए इसका पता लगाना और इलाज कराना बहुत जरूरी होता है। जहां आज हम आपको थायराइड के असर और लक्षण के विषय में बताएंगे। जिससे आप थायराइड की रोकथाम कर सकते हैं।

यह वर्तमान समय की ऐसी समस्या बन गई है, जो अधिकांश लोगों में देखने को मिल रही है। इसलिए इसका पता लगाना और इलाज कराना बहुत जरूरी होता है। जहां आज हम आपको थायराइड के असर और लक्षण के विषय में बताएंगे। जिससे आप थायराइड की रोकथाम कर सकते हैं।

नमक के अलावा प्राकृतिक रूप से कई चीजों में आयोडीन प्राप्त हो सकता है। जैसे पनीर, गाय का दूध, दही, अंडा, इत्यादि।

थायराइड होने पर शरीर में क्या लक्षण दिखते हैं:-

थायराइड होने पर शरीर में क्या लक्षण दिखते हैं:-
  1. लोग खुद में बहुत चिंतित रहने लगते हैं।
  2. डिप्रेशन भी हार्मोन के कम स्तर का संकेत हो सकता है, क्योंकि थायराइड हार्मोन मस्तिष्क के सेरोटोनिन तत्व से जुड़ा होता है।
  3. हमें थायराइड में बहुत ही अधिक भूख लगती है, लेकिन वजन बढ़ने की बजाय कम होता है।
  4. महिलाओं में थायराइड के मुख्य लक्षण पाए जाते हैं। जहां कब्ज की शिकायत और पीरियड की अनियमितता की परेशानी होती है।
  5. हाई ब्लड प्रेशर तथा हाथ पैरों में दर्द और पूरी तरह सुन रहना आदि लक्षण भी पाए जाते हैं।

आपको बता दें कि कभी-कभी तनाव का असर दिमाग के साथ-साथ थायरॉयड ग्रंथि ऊपर भी पड़ता है। जिस वजह से हार्मोन स्त्राव बढ़ने से हमारे अंदर थायराइड होता है। इसके साथ ही यह बात भी सच है कि थायराइड बीमारी जेनेटिक है। यानी माता-पिता को थायराइड हो तो बच्चों को होने की संभावना भी रहती है।

बाल बहुत अधिक झड़ना #अचानक से शरीर का कांपना #त्वचा से संबंधित रोग होना #वजन तेजी से कम होनानींद से संबंधित बीमारियों का होना

थायराइड दो तरह का होता है:-

  1. हाइपर थायराइड- वजन कम होता है
  2. हाइपो थायराइड- वजन बढ़ता है
  3. हायपर थायराइड- इसमें विशेषकर हमारे शरीर में अधिक थायराइड हार्मोन बनता है। जिस वजह से हमारा शरीर ऊर्जा का इस्तेमाल ज्यादा करता है और इसमें हमारा वजन भी कम होता है। हाइपर थायराइड से संबंधित रोग
  1. हाइपो थायराइड- इसमें हाइपर थाइरोइड का बिल्कुल उल्टा काम होता है। जहां हाइपोथाइरॉएड की ग्रंथि में हार्मोन की मात्रा तेजी से कम होती है और मरीज की पाचन शक्ति कमजोर होती है और उनका वजन बढ़ता है। हाइपो थायराइड से होने वाले रोग #अनियमित पीरियड्स #हर वक्त डिप्रेशन में रहना #शरीर और चेहरे का फूलना #त्वचा में रूखापन #वजन तेजी से बढ़ना

थायराइड के कारण क्या है:-

आपको बता दें कि हम ऐसे ऐसे तत्वों का सेवन करते हैं, जिससे हमारे अंदर थायराइड जैसी बीमारियां उत्पन्न होती है। जिनमें कुछ मुख्य है-

1. शरीर में आयोडीन की कमी होना

यह मुख्य कारण माना जाता है जिस कारण से हमारे अंदर थायरॉइड जैसी बीमारी उत्पन्न होती है। जहां सही मात्रा में हमें नमक का इस्तेमाल करनी चाहिए।

2. उच्च रक्तचाप का होना

अगर किसी को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो उसे थायराइड होने की संभावना अधिक रहती है। ऐसे में व्यक्ति को अपने रक्तचाप का सही तरीके से इलाज कराते रहना चाहिए।

3. डायबिटीज का होना

यह भी माना गया है कि थायराइड अक्सर मधुमेह के कारण ही होता है।ऐसे में व्यक्ति को अपने डायबिटीज पर नियंत्रण के लिए कोशिश करनी चाहिए। आपको यह जानकर खुशी होगी कि आप कुछ बातों का ध्यान रखकर अपने थायराइड जैसी बीमारी पर रोकथाम कर सकते हैं।

  1. हेल्थ डाइट अपनाना
    खराब भोजन भी थायराइड के पनपने की वजह होती है।जहां इसमें भोजन का विशेष ध्यान रखना चाहिए और उसे हेल्दी डाइट अपनाना चाहिए।
  2. डिब्बाबंद चीजों का सेवन न करें
    हालांकि यह आजकल काफी प्रचलन में है और अधिकांश लोग भी ऐसी भोजन का सेवन करते हैं, लेकिन आपको बता दें कि डिब्बाबंद भोजन का सेवन हमारे सेहत पर बुरा असर डालता है।

इन मुख्य कारणों से थायराइड की गड़बड़ी होती है:-

  1. किसी दवा के असर के कारण
  2. किसी अनुवांशिक विकृति के कारण
  3. ऑटोइम्यूनिटी संबंधी बीमारी
  4. आयोडीन की कमी

Leave a Comment