General

पीएम मोदी से गले लग कर रोने लगे इसरो के चीफ

चंद्रयान-2 से संपर्क टूटने के बाद शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसरो मुख्यालय पहुंचे. इस दौरान इसरो चीफ के. सिवन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गले लगकर रोने लगे. इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो चीफ का हौसला बढ़ाया.

पीएम मोदी से गले लग कर रोने लगे इसरो के चीफ

दक्षिणी ध्रुव पर उतरने से कुछ सेकेंड पहले chandrayaan-2 से संपर्क टूट गया। इस ऐतिहासिक पल को देखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसरो के मुख्यालय में मौजूद थे, जहां सुबह पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाने के लिए बेंगलुरु स्थित इसरो मुख्यालय में पहुंचे थे। आपको बता दें कि वैज्ञानिकों को संबोधित करने के बाद जब प्रधानमंत्री इसरो मुख्यालय में जाने लगे तो इसरो के चीफ के सिवान पीएम मोदी के गले लग कर रोने लगे।

जहां पीएम मोदी ने इसरो के चीफ को गले लगाकर उनकी पीठ थपथपाई और उनका हौसला बढ़ाया। इसके अलावा आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने कहा कि हम निश्चित रूप से सफल होंगे। इस मिशन के अगले प्रयास में भी और इसके बाद के हर प्रयास में भी कामयाबी हमारे साथ होगी।

पीएम मोदी ने बताया कि ज्ञान का अगर सबसे बड़ा शिक्षक कोई है तो वह विज्ञान है। विज्ञान में विफलता नहीं होती केवल प्रयोग और प्रयास होते हैं। सभी अंतरिक्ष वैज्ञानिकों के परिवार को सलाम करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनका मौन लेकिन बहुत ही समर्थन मिला। हम फिर पूरी क्षमता के साथ आगे बढ़ेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि हर मुश्किल, हर संघर्ष, हर कठिनाई हमें कुछ नया सीखा कर जाती है। कुछ नए अविष्कार नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित करती है।

Leave a Comment