General News News & Updates Poilitics

राम जन्मभूमि केस: Supreme court में सुनवाई का हाल

today's breaking news
Written by admin

Todays Breaking new

Supreme court की रोजाना सुनवाई का आज तीसरा दिन है। 6 अगस्त को शुरू हुई यह सुनवाई पर नया मोड़ आया है। जहां दूसरे दिन Supreme court में निर्मोही अखाड़ा ने अपनी बात रखी और बुधवार शाम को रामलला के वकीलों ने दलील रखना शुरू किया था।वहीं राजनीतिक और धार्मिक रूप से संवेदनशील मामले में रामलला विराजमान के वकील ने बुधवार को अदालत को बताया कि लाखों भक्तों की अटूट आस्था यह साबित करने के लिए काफी है कि अयोध्या में पूरा विवादित स्थल भगवान राम का जन्म स्थान है।आपको बता दें कि गुरुवार को सुनवाई शुरू होते ही जस्टिस भूषण ने रामलला के वकील से तीखे सवाल किए। जहां उन्होंने पूछा कि क्या जन्म स्थान को व्यक्ति माना जा सकता है, जिस तरह उत्तराखंड की हाई कोर्ट ने गंगा को व्यक्ति माना था।

इस पर रामलला के वकील ने कहा कि हां, राम जन्मभूमि व्यक्ति हो सकता है, क्योंकि वह सिर्फ एक मूर्ति नहीं बल्कि एक देवता है और हमारे लिए सजीव है।वही आपको बता दे कि पीठ में न्यायमूर्ति एसए बाबडे, न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एसए नजीर शामिल है।

बौखलाए पाकिस्तान:समझौता एक्सप्रेस और भारतीय फिल्म पर लगाई रोक

जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखला आया हुआ है। जहां बौखलाहट में पाकिस्तान ने अब समझौता एक्सप्रेस को रोक दिया है।आपको बता दें कि यह खबर पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से आ रही है। जहां इससे पहले पाकिस्तान ने भारत से राजनयिक संबंधों को खत्म करने का फैसला लिया था।

समझौता एक्सप्रेस

आपको बता दें कि पाकिस्तान ने अपने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को समझौता एक्सप्रेस के साथ भेजने से मना कर दिया है। पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद के द्वारा यह फैसला लिया गया। जहां समझौता एक्सप्रेस को हमेशा के लिए रोक दिया गया है। इसके साथ ही जिन लोगों ने पहले से टिकट कटा लिया है, उन्हें लाहौर के डीएस कार्यकाल से टिकट के पैसे वापस कर दिए जाएंगे

भारतीय फिल्मों पर भी लगाई रोक

कड़ा रुख अपनाते हुए भारतीय फिल्म इंडस्ट्री को पाकिस्तान का करारा तमाचा लगा है।
जहां पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विशेष सहायक ने कहा कि अब से पाकिस्तानी सीनेमाघरों में कोई भी भारतीय सिनेमा नहीं दिखाई जाएगी।सात अगस्त को पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे को लेकर भारतीय उच्चायुक्त को निष्कासित करने और भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को निलंबित करने का ऐलान किया था। आपको बता दें कि भारत के उच्चायुक्त बिसारिया पाकिस्तान के इस्लामाबाद में है। वहीं पाकिस्तानी उच्चायुक्त माइन उल हक नई दिल्ली में है।

पाकिस्तान के साथ युद्ध की स्थिति के बीच 2 ब्रह्मोस मिसाइल खरीदेगा रक्षा मंत्रालय

अपनी पहली रक्षा अधिग्रहण परिषद की बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी पहली बैठक में बताया कि भारतीय नौसेना के लिए दो ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल बैटरी की खरीद सहित लगभग 12000 करोड रुपए की हथियार प्रणालियों को अधिग्रहण का फैसला लिया है। आपको बता दें कि यह एक ऐसी मिसाइल होगी जो किसी भी दुश्मन युद्धपोत को नष्ट कर सकती है।
वहीं रक्षा मंत्री पाकिस्तान और चीन की सीमाओं पर तैनाती के लिए दो इलेक्ट्रॉनिक युद्ध प्रणाली की प्रस्तावित खरीद पर भी फैसला करेंगे। हालांकि नई सरकार के गठन के बाद पहली बार ईडीएसी बैठक कर रहा है, लेकिन नरेंद्र मोदी प्रशासन में अपने पहले 50 दिनों में बलों की आपातकालीन आवश्यकता को पूरा करने के लिए लगभग ₹8500 करोड खर्च कर दिए हैं। हथियार प्रणाली जैसे spice-2000 बम धमाके और इजराइल से स्पाइक एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल स्ट्रम अटका ईयर एजीटीएम और उससे कई अन्य स्पीयर को भारतीय वायु सेना द्वारा इन शक्तियों के तहत अधिग्रहण किया गया है।

Leave a Comment