General News News & Updates Poilitics

Today’s Top 5 Trending News

Today's Top 5 Trending News
Written by admin

top 5 trending news

भारत रत्न अटल जी की पहली पुण्यतिथि आज, जाने उनके बारे में कुछ रोचक तथ्य

भारत रत्न अटल जी की पहली पुण्यतिथि

भाजपा के दिग्गज नेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की आज पुण्यतिथि मनाई जा रही है। अटल बिहारी बाजपाई का 16 अगस्त 2018 को निधन हो गया था। जहां लंबे समय से बीमार चल रहे थे। बता दें कि भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई 93 वर्षों की आयु में अलविदा कह गए। अटल बिहारी वाजपेई को 2014 में देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। वह पहली बार 1996 में प्रधानमंत्री बने और उनकी सरकार सिर्फ 13 दिनों तक ही चल पाई। जहां दूसरी बार 1998 में और तीसरी बार 1999 में अटल बिहारी वाजपेई तीसरी बार प्रधानमंत्री बने।

अटल बिहारी वाजपेई के द्वारा लिए गए कुछ अहम फैसले:-

  1. अपने प्रधानमंत्री के कार्यकाल में अटल बिहारी वाजपेई ने पूरे देश को एक सूत्र में जोड़ने की कोशिश की थी।
  2. अटल बिहारी वाजपेई ने 1999 में बीएसएनल के एकाधिकार को खत्म करते हुए टेलीकॉम नीति लागू की।
  3. 6 से 14 साल के बच्चों के लिए सर्व शिक्षा अभियान के तहत मुफ्त शिक्षा देने का अभियान चलाया।
  4. लाहौर बस सेवा की शुरुआत प्रधानमंत्री के तौर पर अटल बिहारी वाजपेई ने भारत और पाकिस्तान के आपसी रिश्ते की सुधारने की दिशा में तेजी से काम किया।

जाकिर नायक पर मलेशियाई सरकार ने कसा शिकंजा, धर्म के नाम पर भड़काने का आरोप

जाकिर नायक

भारतीय इस्लामिक धर्म प्रचारक को उनके देश के बारे में भड़काऊ बयानबाजी करने पर मलेशिया के प्रशासन ने पूछताछ के लिए समन भेजा है। आपको बता दें कि बुधवार को नाईक को बर्खास्त करने की मांग मलेशिया सरकार के कुछ मंत्रियों के द्वारा की गई थी। दरअसल भारत में नफरत फैलाने वाले और मनी लॉन्ड्रिंग करने में आरोपित जाकिर नायक ने मलेशिया में भी कहा कि ‘मलेशिया के हिंदुओं के पास भारत के अल्पसंख्यक मुसलमानों से 100 गुना अधिक अधिकार है’। बता दें कि मलेशिया के गृह मंत्री मोहिद्दीन यासीन ने बताया कि पुलिस नाईक और कुछ लोगों से इस संबंध में पूछताछ करेगी। जहां उन लोगों पर कई लोगों की भावनाओं को भड़काने के लिए झूठी खबर प्रचारित करने का आरोप है। पिछले 3 साल से मलेशिया में रह रहे नाईक के नफरत फैलाने वाले भाषण से मलेशियाई सरकार नाराज है। वही बताया गया है कि पूछताछ के बाद पर्याप्त सबूत होने पर दंड संहिता की धारा 504 के तहत आगे की कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि मलेशियाई दंड संहिता की धारा 504 में किसी समुदाय को नीचा दिखाने पर कार्रवाई करने का प्रावधान है।

पीओके में आतंकियों के ग्रुप ने भारत के खिलाफ जनसभा आयोजित की, कश्मीर में जिहाद करने का दिया संकेत

बौखलाहट में पाकिस्तान ना जाने कौन-कौन से तरीके अपनाने की कोशिश कर रहा है।
आपको बता दें कि जब से अनुच्छेद 370 को हटाया गया है तब से पाकिस्तान की प्रतिक्रिया लगातार देखने को मिल रही है। जहां अब जब उनके पास कोई रास्ता नहीं है तो पाकिस्तान सरकार आतंकियों की मदद कर भारत में जिहाद छेड़ने के लिए भड़का रही है। आपको बता दें कि इस बात का खुलासा एक वीडियो के माध्यम से हुआ। जहां यह देखा गया कि आतंकी एकजुट होकर भारत के खिलाफ किसी बड़े हमले की तैयारी कर रहा है।

जिहाद छेड़ने की धमकी

हिजबुल मुजाहिदीन और यूनाइटेड जिहाद काउंसिल जैसे आतंकी संगठन जिसका सरगना सैयद सलाउद्दीन है। उसकी मदद पर कश्मीर में आतंकवाद फैलाने की फिराक में है।
जहां आपको बता दें कि पीओके के मुजफ्फराबाद में गुरुवार को हिज्बुल मुजाहिदीन के खिलाफ सैफुल्ला और नेब अमीर प्रेस क्लब के सामने विरोध प्रदर्शन करते नजर आए।
जहां विरोध प्रदर्शन के दौरान आतंकी भारत के खिलाफ जिहाद छेड़ने के भी नारे लगा रहे थे।
इस प्रदर्शन का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

सीएम नीतीश कुमार ने वृक्ष को बांधी राखी, कहा- वृक्ष आम जीवन के लिए जरूरी

सीएम नीतीश कुमार ने वृक्ष को बांधी राखी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 15 अगस्त के मौके पर झंडा तोलन करने के बाद राजधानी वाटिका के एडवेंचर पार्क पहुंचे। जहां 15 अगस्त के साथ-साथ सीएम नीतीश कुमार ने रक्षाबंधन का त्यौहार भी मनाया। उन्होंने वृक्ष सुरक्षा दिवस पर पेड़ को राखी बांधी। इसके साथ नीतीश कुमार ने पौधारोपण किया। वहीं आपको बता दें कि इन सबके बीच नीतीश कुमार के साथ डिप्टी सीएम सुशील मोदी भी मौजूद रहे। सीएम नीतीश कुमार ने पर्यावरण को बचाने का संकल्प भी लिया। वही आपको बता दें कि पेड़-पौधे की रक्षा करने और उन्हें बचाने के मकसद से सीएम नीतीश कुमार हर साल पेड़ को राखी बांधते हैं। वही इस शुभ कार्य में सीएम नीतीश कुमार के साथ साथ वन एवं पर्यावरण विभाग के कई अधिकारी एवं अन्य लोग भी मौजूद रहे। वृक्ष आम जीवन के लिए है जरूरी पौधारोपण के साथ साथ नीतीश कुमार ने यह भी बताया कि पेड़ पौधा हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और हमारे जीवन के लिए यह बहुत ही जरूरी है। जहां यदि हर कोई एक भी पेड़ लगाए तो हम दूषित पर्यावरण से बच सकते हैं।

हम अब तक न्यूक्लियर पावर पहले इस्तेमाल नहीं करते आए, लेकिन आगे क्या होगा इस पर कुछ कह नहीं सकते हैं- राजनाथ सिंह

Nuclear power

जब से पाकिस्तान ने अपनी नापाक हरकत शुरू की है, तब से भारत उसे मात देती आ रही है। जहां पाकिस्तान के साथ भारत के बढ़ते द्विपक्षीय तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को यह संकेत दे दिया है कि भारत परमाणु हथियारों पर अपनी ‘नो फर्स्ट यूज’ नीति को छोड़ सकता है। एक अहम बात आपको बता दें कि पोखरण में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की पुण्यतिथि पर यह बयान दिया गया। जहां वह सेना मास्टर प्रतियोगिता के समापन समारोह में शामिल हुए थे।जहां राजनाथ सिंह ने इस बात को भी दोहराया कि भारत नो फर्स्ट यूज के सिद्धांत के प्रति दृढ़ है,लेकिन वह भविष्य में एक ट्वीट के जरिए भी बदल सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 2014 के लोकसभा चुनाव में परमाणु हथियारों के पहले उपयोग को खारिज कर दिया था और कहा था कि भारत का शस्त्रागार रक्षा और सुरक्षा के लिए है किसी को दबाने के लिए नहीं। राजनाथ सिंह ने यह टिप्पणी की क्योंकि उन्होंने पोखरण में अपनी पहली पुण्यतिथि पर वाजपेई को श्रद्धांजलि अर्पित की। जहां भारत ने 1974 में और 1998 में जब वाजपेई के नेतृत्व वाली बीजेपी सत्ता में थी तब परमाणु परीक्षण किया गया था।

Leave a Comment