Diseases and Remedies

Menstruation:- 10 Problems, Symptoms, and Remedies in Hindi.

माहवारी से पहले की 10 परेशानी, लक्षण और कुछ उपाय |
Written by admin

महिलाओं को Menstruation में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यह एक ऐसी प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिस पर किसी का कोई बस नहीं है, लेकिन हम इनसे होने वाली परेशानियों को जान सकते हैं और उससे निजात पा सकते हैं। आज हमारा यह आर्टिकल खासकर महिलाओं के लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है। जहां हम Menstruation से जुड़ी कुछ परेशानियों और उसके लक्षणों का जिक्र करेंगे।

Read this also…HOW YOUR PERIOD CHANGE CYCLE DURING YOUR 20S, 30S, AND 40S

माहवारी से पहले होने वाले कुछ परेशानियां एवं उनका इलाज:-

Menstruation:- 10 Problems, Symptoms, and Remedies

कमर और पेरू में दर्द

यह दर्द सिर्फ एक महिला ही समझ सकती है। जहां माहवारी के 3 या 4 दिन पहले कमर और पेट के निचले हिस्से में काफी दर्द होता है, जो मासिक आरंभ होने पर ठीक हो जाता है, लेकिन कभी-कभी ऐसा देखा गया है कि इतना ज्यादा दर्द महसूस होने लगता है कि महिलाएं किसी अन्य कार्यों में अपना ध्यान लगा ही नहीं पाती है और उन्हें बस पूरे शरीर में थकान और दर्द महसूस होता है। इलाज- इसका एकमात्र इलाज दर्द निवारक गोलियों से ही हो सकता है।

Read this also…FITNESS DIET:- TO STAY FIT AND HEALTHY IN OUR DAILY LIFE IN HINDI.

ऐठंन

Menstruation की स्थिति में सब को अलग अलग तरह का दर्द होता है। जिसमें ऐठन महसूस होना भी एक तरह का तेज दर्द है। जब तक रक्त स्राव होता है, ऐठन रहता है।आमतौर पर यह समस्या लड़कियों के मासिक धर्म आरंभ होने के दो-तीन साल बाद शुरू हो जाता है। इलाज- इसमें आप अदरक वाली चाय पी सकते हैं। दूसरा विकल्प यह है कि एक बोतल में गर्म पानी भरे, उसे कपड़े में लपेटकर फिर अपने पेट को सेकें। इससे आपको काफी आराम मिलता है। इसके अलावा आप घरेलू नुस्खा अजवाइन का सेवन भी कर सकते हैं।

Read this also….MOOD BOOSTING FOOD FOR DEPRESSION:- 9 FOODS THAT BOOST YOUR MOOD.

खून की कमी

Menstruation के दौरान रक्त का इतना स्राव होता है कि एक समय महिलाओं के शरीर में खून की कमी महसूस होने लगती है। बताया जाता है कि महिलाओं को प्रत्येक अवधि के दौरान लगभग 2 से 4 बड़े चम्मच खून की कमी होती है। आपका शरीर रक्त को बाहर निकालने के लिए थक्का रोधी जारी करता है, क्योंकि यह आपकी योनि से गुजरता है। इलाज- ऐसी स्थिति में आप पोषण भरी चीजों का सेवन करें और फल खाने पर ज्यादा ध्यान दें,जो आपके शरीर में फिर से खून को बनाएं और आपके अंदर फुर्ती लाए।

Read this also…HIGH BLOOD PRESSURE:- SYMPTOMS, CAUSES, AND HOME REMEDIES IN HINDI

जी मिचलाना

महावारी के वक्त इस तरह की समस्याएं अक्सर देखी जाती है। जहां उल्टी, दस्त,जी मचलना और सिरदर्द जैसी समस्याएं भी हो सकती है। जी मिचलने पर आपको किसी चीज का सेवन करने की इच्छा नहीं होती है और बस अंदर से अजीब महसूस हो रहा होता है।

Read this also…महिलाओं में कमजोरी के कारण, लक्षण, एवं उपाय – WOMEN WEAKNESS IN HINDI.

कुछ ऐसे उपाय जो महावारी के परेशानियों से आपको राहत पहुंचाएगी और आपको दर्द कम महसूस होगा:-

1. अजवायन के फूल

अत्यधिक रक्तस्राव को रोकने के लिए यह काफी बेहतर माना जाता है।जहां एक कप पानी में एक चम्मच अजवायन के फूल की पत्तियां को डालकर 10 मिनट के लिए उबालकर इस चाय को अच्छे से तैयार किया जा सकता है। इससे आपको काफी राहत मिलती है।

2. अदरक

कुछ ही समय में आप इसे तैयार करके इसका सेवन कर सकते हैं। आप अदरक को उबालकर इसके सेवन से अत्यधिक प्रभाव और दर्द से राहत पा सकते हैं। आप इस मिश्रण को भोजन करने के बाद एक दिन में तीन बार ले, यह आपको फायदा पहुंचाएगा।

3. दालचीनी

उबलते पानी में दालचीनी की एक स्टिक द्वारा चाय पीरियड्स में होने वाला रक्त स्राव में के लिए बहुत ही प्रभावी घरेलू उपाय है। आप केवल पूरे दिन में दो बार इसके इस्तेमाल से भारी रक्त स्त्राव को रोकने में मदद कर सकते हैं।

4. सरसों के बीज

थोड़े से सरसों के बीज को पीसकर आप उसका पाउडर बनाकर दूध के साथ लेंगे तो आपको यह भारी पीरियड्स को रोकने में एक प्रभावी घरेलू उपाय माना जाता है।

5.धनिया

यदि किसी महिला को यह महसूस हो रहा कि उन्हें मासिक धर्म के दौरान रक्त स्राव साधारण से ज्यादा हो रहा है, तो आप आधा लीटर पानी में 6 ग्राम धनिया के बीज को खौला ले और थोड़ा शक्कर मिला लें।इससे आपको काफी आराम मिलेगा और भारी रक्तस्राव से आप बच सकती हैं।

महावारी में होने वाली कुछ मुख्य परेशानियां जो जिसका सामना हर महिलाओं को करना पड़ता है:-

महावारी में होने वाली कुछ मुख्य परेशानियां जो जिसका सामना हर महिलाओं को करना पड़ता है:-
  • सिर दर्द
  • मुंहासे
  • चिड़चिड़ापन
  • अत्यधिक थकान
  • चिंता
  • डिप्रेशन
  • तनाव की भावना
  • स्तन दुख
  • सूजन
  • अनिंद्रा
  • ऐठन
  • सिर चकराना
  • उल्टी

Leave a Comment