Life & Relationship Parenting & ChildCare

The Top 10 Parenting Tips for Children in Hindi.

Here are the Top 10 Parenting Tips for raising Children
Written by admin
Parenting Tips Children
The Top 10 Parenting Tips for raising Children

इस दुनिया में कोई भी पूरी तरह संपूर्ण नहीं है। वैसे ही एक अच्छे माता-पिता को परिपूर्ण नहीं होना पड़ता है। एक पैरंट होने के नाते हर दिन आपको एक ऐसी चीज करनी चाहिए जिनका आपके बच्चों के विकास पर असर पड़े तो आज हम उन top 10 parenting tips for children पर चर्चा करेंगे, जिसकी मदद से आप अपने बच्चे के लिए खुद को बदल सकते हैं:-

Read this also…STUDY TIPS:- THE WORST AND BEST PSYCHOLOGICAL HABITS IN HINDI.

अपने बच्चों के रोल मॉडल बने

अपने बच्चों के रोल मॉडल बने

यह बात बिल्कुल सच है कि बच्चे विशेष रूप से सब कुछ देखते हैं, जो भी उनके माता-पिता करते हैं। इसलिए अपने बच्चों के लिए वह व्यक्ति बने जिसे आप चाहते हैं कि आपका बच्चा हो। अपने बच्चे का सम्मान करें,हमेशा उसे सकारात्मक व्यवहार और आदत को दिखाएं और हमेशा से यह ध्यान रखें कि आप अपने बच्चे की भावनाओं के प्रति सहानुभूति रखें।

Read this also….HOW TO GET RID OF THE ADDICTION TO GADGETS IN CHILDREN

2. अपने बच्चे के लिए एक सुरक्षित हैवन बने

यह बताएं कि आप बच्चे के संकेतों के प्रति उत्तरदाई और उनकी जरूरतों के प्रति संवेदनशील होकर हमेशा उनके लिए रहेंगे। आप अपने बच्चों को एक व्यक्ति के रूप में समर्थन और स्वीकार करें। माता-पिता द्वारा स्वीकार किए गए बच्चे जो लगातार उत्तरदाई होते हैं उन्हें बेहतर भावनात्मक विकास, सामाजिक विकास और स्वस्थ परिणाम होते हैं।

Read this also….PARENTING TIPS:- 10 GOOD PARENTING GUIDE FOR CHILDREN IN HINDI.

3. अपने बच्चों से बात करें

Parenting Tips for Children
अपने बच्चों से बात करें

यह बेहद जरूरी है कि आप अपने बच्चों से बात करें और उन्हें भी ध्यान से सुने। यह बात आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है जहां आप संचार के माध्यम से अपने बच्चों के साथ बेहतर संबंध रख सकते हैं। इसका सबसे फायदा यह होगा कि जब भी आपके बच्चे को कोई भी समस्या होगी वह सबसे पहले आपके पास ही आएगा और अपनी बात को कहेगा।

Read this also….FATHER DAUGHTER RELATIONSHIPS GOALS IN HINDI.

4. अपने स्वयं के बचपन पर प्रतिबिंबित करें

यह कई बार देखा गया है कि कई लोग अपने माता पिता से अलग पेरेंट्स चाहते हैं तो आपको बता दें कि अपने स्वयं के बचपन से प्रतिबिंबित करना यह समझने की दिशा में एक कदम है कि हम जिस तरह से करते हैं हम उसका पालन करते हैं। आपके लिए बेहद जरूरी होगा कि उन चीजों पर ध्यान दें जिसे आप बदलना चाहते हैं।

5. अपने स्वयं के कल्याण के लिए ध्यान दें

यह बात बिल्कुल ही सच है, कई बार ऐसा देखा गया है कि बच्चे पैदा होने पर आपकी खुद की सेहत या आपकी शादी की सेहत जैसी चीजो को बैक बर्नर पर रखा जाता है। जहां आप उन्हें ध्यान नहीं देते हैं। शारीरिक और मानसिक रूप से खुद का ख्याल रखने की जरूरत है। इसके अलावा जीवन साथी के साथ संबंध मजबूत करने के लिए समय भी निकालना चाहिए।

6. अपने पालन-पोषण लक्ष्य को याद रखें

अपने पालन-पोषण लक्ष्य को याद रखें

यदि आप भी अधिकांश माता-पिता की तरह है तो आप चाहते हैं कि आपका बच्चा स्कूल में अच्छा हो, उत्पादक हो और जिम्मेदार हो तो आपको और दूसरों के साथ सार्थक संबंधों का आनंद ले और देखभाल और दयालु हो। इस बारे में अवश्य सोचें कि आपके बच्चे के लिए क्रोध और निराशा क्या हो सकती है।

7. हर दिन अपने बच्चों से जुड़े

प्रत्येक बच्चे के लिए हर दिन आपके साथ 10 मिनट का विशेष समय निर्धारित करें । आपके बच्चे के साथ आपका 90% संपर्क जोड़ने के बारे में होना चाहिए, ताकि वह सही होने के बारे में 10% स्वीकार कर सके। यह भी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है कि आप अपना सारा ध्यान मन से बच्चों पर केंद्रित करें।

8. पहले अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखें

कई बार देखा गया है कि बच्चों के स्कूल में खराब ग्रेड, गुस्सा, नखरे, रात का खाना खाने से मना करना इससे पहले कि आप अपने बच्चों के साथ हस्तक्षेप करे……हमेशा अपने आप को शांत करना शुरू करें। ज्यादातर समय आपके बच्चे के साथ एक मुद्दा आपातकाल की तरह महसूस हो सकता है, लेकिन अब गहरी सांस ले और खुद को शांत करें।

9. बातचीत बंद न करें

बातचीत बंद न करें

यदि आपके बच्चे को किसी विषय से नफरत है और वह स्कूल नहीं जाने की बात कर रहा है तो वह शायद मुश्किल नहीं है। ऊंची भावनाओं का मतलब है कि कुछ जरूर चल रहा है यदि आप बस कहते हैं कि बेशक आप स्कूल जा रहे हैं तो अब अपना होमवर्क करें….. आपको यह पता लगाने की जरूरत है कि आपके बच्चे को वास्तव में गणित पसंद नहीं है यह बात कुछ और है।

10. सत्ता संघर्ष से बचे

कई बार माता पिता के रूप में यह बताया जाता है कि हम प्रभारी होने वाले हैं और बच्चों को वही करना चाहिए जो हम कहते हैं, लेकिन यह दिखाने के चक्कर में कि कौन मालिक है शायद आप अपने बच्चों से दूर होते जाएंगे और यह लगातार बढ़ता जाता है।

इनमें मुख्य तरीकों से भी आप अपने बच्चों के लिए एक अच्छे पेरेंट्स बन सकते हैं:-

इनमें मुख्य तरीकों से भी आप अपने बच्चों के लिए एक अच्छे पेरेंट्स बन सकते हैं:-
  1. अपने घर को प्यार और सम्मान से भरे
  2. अपने बच्चों की भावनाओं और विचार को सुनें
  3. नियमों और परिणामों के साथ पालन करें
  4. हास्य की भावना बनाए रखें
  5. जानिए कि आपके बच्चे अपनी उम्र क्षमताओं के आधार पर क्या कर सकते हैं
  6. उन्हें जगह दे
  7. माफी मांगना
  8. आलोचना न करें

Leave a Comment