Budget 2019 News

मंदी की मार झेल रहे ऑटो इंडस्‍ट्री को राहत की उम्मीद, केंद्रीय मंत्री का एलान- कम हो सकती है GST दरें

मंदी की मार झेल रहे ऑटो इंडस्‍ट्री को राहत की उम्मीद, केंद्रीय मंत्री का एलान- कम हो सकती है GST दरें
Written by admin

जीएसटी दर के बढ़ने के कारण सबसे ज्यादा ऑटो सेक्टर को संकट से जूझते देखा गया है। जिसे मद्देनजर रखते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री अरुण मेघवाल का कहना है कि केंद्र सरकार इस को खत्म करने के लिए ऑटो इंडस्ट्रीज के साथ मिलकर काम कर रही है।

मंदी की मार झेल रहे ऑटो इंडस्‍ट्री को राहत की उम्मीद, केंद्रीय मंत्री का एलान- कम हो सकती है GST दरें

जीएसटी दर के बढ़ने के कारण सबसे ज्यादा ऑटो सेक्टर को संकट से जूझते देखा गया है। जिसे मद्देनजर रखते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री अरुण मेघवाल का कहना है कि केंद्र सरकार इस को खत्म करने के लिए ऑटो इंडस्ट्रीज के साथ मिलकर काम कर रही है। इसके अलावा अरुण मेघवाल का यह भी कहना था कि सरकार वाहनों की खरीद पर जीएसटी कम करने पर विचार कर रही है। अगर ऐसा होता है तो मंदी की मार झेल रही ऑटो इंडस्ट्री को बड़ी राहत पहुंच सकती है।

आखिर क्या वजह है ऑटो इंडस्ट्री में सुस्ती होने की

आखिर क्या वजह है ऑटो इंडस्ट्री में सुस्ती होने की

दरअसल जुलाई में पैसेंजर वीइकल्स का उत्पादन करीब 17 पर्सेंट कम रहा। देश में तेजी से उपभोक्ता वस्तुओं की मांग घट रही है, जो आर्थिक मंदी का बड़ा संकेत है। पिछले कुछ महीनों में मांग घटने की रफ्तार तेज हुई है और सबसे अहम बात यह है कि वित्तीय संकट से जूझ रहे एनबीएफसी के पास ऑटो डीलरों और कार खरीदारों को कर्ज देने के लिए फंड नहीं है।इसके अलावा, नोटबंदी का असर, जीएसटी के तहत ऊंची टैक्स दरें, ऊंची बीमा लागत और ओला-ऊबर जैसी ऐप बेस्ड कैब सर्विस में तेजी और कमजोर ग्रामीण अर्थव्यवस्था ऑटो इंडस्ट्री के घटते बिक्री आंकड़ों के पीछे प्रमुख कारण हैं।

Leave a Comment